आयुष्मान भारत बनने जा रही दुनिया की सबसे बड़ी फ्री हेल्थ स्कीम

आयुष्मान भारत योजना को दुनिया की सबसे बड़ी सरकारी स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के रूप में पेश किया गया है , साथ ही यह दुनिया की सबसे बड़ी फ्री स्कीम भी है ।

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने किया ट्वीट

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने ट्वीट कर के कहा कि आयुष्मान भारत योजना केवल 5 महीनों में ही दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य सुरक्षा योजना बनने के कगार पर है । उन्होंने इसके ऊपर एक ट्वीट लिखा । उनके हिसाब से 5 महीने से कुछ अधिक समय में प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना दुनिया के सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना बनने की राह में आगे बढ़ चुका है इसके तहत 2.2 करोड़ लोगों के आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड जारी किए जा चुके हैं और 14 लाख से अधिक मरीजों का इलाज मुफ्त में किया जा चुका है ।

आयुष्मान भारत योजना जल्दी ही बनेगी दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य सुरक्षा योजना ।

यह योजना दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के रूप में पेश की जा रही है, इसके तहत 60% का खर्च केंद्र सरकार और बाकी संबंधित राज्य सरकार वहन करती है । इस योजना का लाभ गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों को दिया जाता है ।

आयुष्मान भारत के लिए आवेदन ।

आयुष्मान भारत का लाभ लेने के लिए आप अपने नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर मे अपना राशन कार्ड ले कर जा सकते हैं और इस योजना के लिए अपना आवेदन करवा कर योजना का लाभ पा सकते हैं । इसके लिए आपको मात्र ₹30 की छोटी सी रकम देनी है और इसके एवज में सरकार आपको 5 लाख रुपए का फ्री इलाज उपलब्ध करवाएगी ।

एक दूसरे ट्वीट मेें वित्त मंत्री ने एक और योजना के ऊपर ट्वीट किया जिसमें उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन के तहत 9.23 करोड़ शौचालय के निर्माण को लेकर जिक्र किया है । 2019 की बात करें तो अभी देश में 98% लोगों के लिए शौचालय की सुविधा उपलब्ध हो गई है जबकि यह आकर 2014 में मात्र 39% का था । उन्होंने बताया कि 30 राज्य और केंद्र शासित क्षेत्र खुले में शौच से पूर्ण रूपेण मुक्त हो चुके हैं ।

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने टिप्पणी कर बताया है कि इन योजनाओं को विश्व बैंक की मदद से एक स्वतंत्र एजेंसी के द्वारा कराए गए सर्वे के अनुसार पता चला है कि जिन ग्रामीण इलाकों के घरों में शौचालय उपलब्ध करवाएं गए हैं उनमें से 93.4 फ़ीसदी परिवार शौचालय का इस्तेमाल भी कर रहे हैं । स्वच्छ भारत अभियान की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 2 अक्टूबर 2014 को की गई थी ।

Leave a Comment